‘अर्थव्यवस्था को नष्ट करने को इमरान को विदेशी फंडिंग’

इस्लामाबाद। पाकिस्तान मुसिलम लीग (पीएमएल-एन) के नेता एवं पूर्व गृह मंत्री अहसान इकबाल ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि देश की अर्थव्यवस्था को नष्ट करने और चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) में रूकावट डालने के लिए प्रधानमंत्री को विदेशी तत्वों की तरफ से फंडिंग की गयी है।

इकबाल ने पाकिस्तान की लचर अर्थव्यवस्था को लेकर इमरान पर तीखा हमला करते हुये कहा, ;; पीएमएल-एन के कार्यकाल के दौरान देश तेज गति से आगे बढ़ रहा था लेकिन वर्तमान में हमारी आर्थिक वृद्धि पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) सरकार की खराब नीतियों के कारण पूरे क्षेत्र में सबसे निचले स्थान पर है।

इकबाल ने इमरान के मलेशिया की राजधानी कुआलालम्पुर में होने वाले सम्मेलन में नहीं जाना पर उन्हें ;यू-टर्न खान करार दिया। गौरतलब है कि सत्तारूढ़ पीटीआई पार्टी को पहले भी पाकिस्तान चुनाव आयोग (ईसीपी) के समक्ष विदेशी फंडिंग मामले का सामना करना पड़ा था। यह मामला 2014 में एक पार्टी नेता द्वारा दायर किया गया था।

जिसमें उन्होंने कथित आंतरिक भ्रष्टाचार और राजनीतिक धन को नियंत्रित करने वाले कानूनों के दुरुपयोग को लेकर पार्टी अध्यक्ष के साथ मतभेद जताया था। पाकिस्तान ने आर्थिक सहायता बंद करने के सऊदी अरब की धमकी और दबाव के चलते कुआलालम्पुर में आयोजित प्रमुख मुस्लिम देशों के शिखर सम्मेलन में भाग नहीं लिया। -(एजेंसी)



Post a Comment