चीन को विश्वबैंक से मिलने वाले ऋण को रोकने के लिये अमेरिकी सीनेट में विधेयक पेश

वॉशिंगटन। अमेरिका की सीनेट में रिपब्लिकन पार्टी के तीन सीनेटरों ने चीन को कर्ज देने से विश्वबैंक को रोकने के लिये एक विधेयक पेश किया है। सीनेटरों चक ग्रासली, मार्को रुबियो और टॉम कॉटॉन ने बुधवार को यह विधेयक पेश किया। इस विधेयक में विश्वबैंक में अमेरिका के प्रतिनिधि को निर्देश दिया गया है कि वह चीन को दिये जाने वाले ऐसे किसी भी ऋण के खिलाफ मतदान करें, जिनका इस्तेमाल धार्मिक या नस्लीय अल्पसंख्यकों के खिलाफ किया जा सकता है।

ग्रासली और कॉटॉन ने हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव में पेश ;चीन को विश्वबैंक से मिलने वाले ऋण की जवाबदेही विधेयक का एक अनुपूरक भी सीनेट में रखा। यह कदम ऐसे समय उठाया गया है जब चीन में उइग्यूर मुसलमानों को जबरन नजरबंद करने से जुड़े एक संगठन को विश्वबैंक से पांच करोड़ डॉलर का ऋण दिये जाने की खबरें आ रही हैं।

ग्रासली ने कहा कि चीन लंबे समय से अमेरिकी करदाताओं का धन विश्वबैंक के माध्यम से प्राप्त कर सीमा पार अपना प्रभाव बढ़ाने में उसका इस्तेमाल करता आया है। अब इस तरह के ऋण पर रोक लगनी चाहिये। उन्होंने कहा, ;;जो इससे भी बुरा है, वह है कि इन ऋण का इस्तेमाल संभवत: ऐसे संसाधनों के ऊपर किया गया है जिनका इस्तेमाल मानवाधिकार के उल्लंघन तथा उइग्यूर मुसलमानों के उत्पीडऩ में किया जाता है। -(एजेंसी)



Post a comment