राष्ट्रीय महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप : सोनिया और ज्योति क्वार्टर फाइनल में

पिछले साल विश्व चैंपियनशिप में रजत पदक जीतने वाली सोनिया चहल (57 किलोग्राम भारवर्ग) और यूथ विश्व चैंपियन ज्योति गुलिया (51 किलोग्राम भारवर्ग) ने शानदार प्रदर्शन करते हुए कुन्नूर के मुंडायाड इंडोर स्टेडियम में जारी चौथी इलीट महिला राष्ट्रीय मुक्केबाजी चैंपियनशिप के तीसरे दिन बुधवार को क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया जबकि नंदिनी (81 किलोग्राम भारवर्ग) प्रतियोगिता से बाहर हो गर्इं. 2016 में 57 किग्रा में स्वर्ण पदक और 2017 में कांस्य पदक जीतने वाली चहल ने ऑल इंडिया पुलिस की संध्यारानी देवी को 4-1 से मात दी. 

सोनिया ने मुकाबले के बाद कहा कि मैंने धीमी शुरुआत की, लेकिन मैं तीसरे राउंड में पूरी तरह से आक्रमण करने में सक्षम रही. कुल मिलाकर मैं अपने प्रदर्शन से बहुत खुश हूं. यहां पर स्वर्ण पदक जीतना मेरे लिए काफी महत्त्वपूर्ण है और इससे मुझे ओलंपिक क्वालीफायर्स के लिए ट्रायल्स में काफी आत्मविश्चवास मिलेगा. मुझे उम्मीद है कि मैं अपना सर्वश्रेष्ठ दूंगी और स्वर्ण हासिल करूंगी.

चैंपियनशिप में रेलवे का प्रतिनिधित्व कर रही यूथ ओलंपियन और यूथ विश्व चैंपियन ज्योति गुलिया के लिए यह मुकाबला काफी कड़ा रहा. इंडिया ओपन की रजत पदक विजेता मोनिका ने ज्योति को कड़ी चुनौती दी लेकिन ज्योति 3-2 से मुकाबला जीतने में सफल रहीं. 54 किलोग्राम भारवर्ग में अपना खिताब बचाने उतरीं मीना कुमारी देवी को जीत हासिल करने में ज्यादा परेशानी नहीं हुई. उन्होंने उत्तर प्रदेश की कनिका चौधरी को तीसरे दौर में तकनीकी दक्षता से मात दे यह मुकाबला अपने नाम किया. तीसरे दौर में रैफरी ने मुकाबला रोक दिया था. 

64 किलोग्राम भारवर्ग में पवलियाओ बासुमात्री ने भी स्वर्ण पदक जीतने के अभियान की शानदार शुरुआत की. उन्होंने दिल्ली की आरती रावत को मात दी. इस चैंपियनशिप में सर्विसेस का प्रतिनिधित्व कर रहीं असम की बासुमात्री ने तीसरे दौर में रेफरी के मुकाबला रोके जाने के बाद जीत हासिल की. 48 किलोग्राम भारवर्ग में प्रेसिडेंट कप में स्वर्ण पदक जीतने वाली मोनिका ने हिमाचल प्रदेश की ज्योतिका बिष्ट को 5-0 से हराया. 

पंजाब और चंडीगढ़ की मुक्केबाजों ने भी शानदार प्रदर्शन किया. 48 किग्रा में मीनाक्षी, 54 किग्रा में रिया रानी, 75 किग्रा में मनू बाधन और 81 किग्रा में परमिंदर कौर ने शानदार जीत दर्ज कर पंजाब के लिए सफलता हासिल की जबकि चंडीगढ़ की रितु ने 57 किग्रा वर्ग के दूसरे राउंड में आरएससी से जीत हासिल की. रितु ने जम्मू व कश्मीर की नेहा भगत को हराया जबकि 64 किग्रा में नीमा ने महाराष्ट्र की सिमरन मेंडन को 5-0 से हराया. दिन का सबसे बड़ा उलटफेर चंडीगढ़ की प्रतिभाशाली मुक्केबाज नंदिनी का बाहर होना था. नंदिनी को उत्तर प्रदेश की शैली सिंह ने 4-1 से हराया. नंदिनी 2019 महिला विश्व चैंपियनशिप टीम में शामिल थीं. टूर्नामेंट के नाकआउट स्तर के मुकाबले 6 दिसम्बर से खेले जाएंगे. फाइनल मुकाबले आठ दिसंबर को होंगे.



Post a Comment