तिरंगा यात्रा में गडकरी बोले, CAA को लेकर सोशल मीडिया पर सत्‍य शेयर करें

नागपुर। महाराष्ट्र के नागपुर शहर में नागरिकता कानून के समर्थन में हजारों लोगों ने रविवार को एक तिरंगा यात्रा में हिस्सा लिया। आरएसएस और बीजेपी की ओर से आयोजित की गई इस तिरंगा यात्रा के दौरान केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने लोगों को संबोधित किया। अपने संबोधन में गडकरी ने कहा कि हमारी पार्टी मुसलमानों के खिलाफ नहीं हैं और कुछ विपक्षी दल देश में नागरिकता कानून को लेकर डर पैदा कर राजनीति कर रहे हैं। गडकरी ने लोगों से अपील की कि वह सोशल मीडिया पर कानून से जुड़ी सत्यता को शेयर करें, जिससे कि लोगों का भ्रम दूर हो सके।
लोगों को संबोधित करते हुए गडकरी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी मुसलमानों के खिलाफ नहीं है। विपक्ष के दल देश के मुसलमानों में डर पैदा करके राजनीति कर रहे हैं, लेकिन नागरिकता कानून मुसलमानों के विरुद्ध नहीं है। गडकरी ने कहा कि 1947 में हमें आजादी मिली और आजादी के बाद पाकिस्तान और बंग्लादेश बना। इतिहास में यह लिखा है कि आजादी से पहले जब भारत विभाजित नहीं था तो भारत के सभी धर्मों के लोग अफगानिस्तान, पाकिस्तान समेत तमाम हिस्सों में रहते थे। महात्मा गांधी ने आजादी के समय भारत को एक सेक्युलर राष्ट्र बनाने की बात कही थी।
‘महात्मा गांधी ने कहा था, भारत देगा आश्रय’
उस वक्त लोगों ने कहा था कि इस्लामी देश बने पाक में अगर अल्पसंख्यकों पर अत्याचार होता है तो वह कहां जाएंगे? उस वक्त गांधी जी ने कहा था कि जब भी पाकिस्तान के अल्पसंख्यक लोगों (हिंदू, जैन, सिख, बौद्ध) को जरूरत होगी भारत उन्हें आश्रय देगा। सउदी अरब से लेकर ऐसे कई राष्ट्र हैं जिन्होंने खुद को इस्लामी राष्ट्र घोषित किया है। ऐसे में संविधान में बाबा साहब आंबेडकर ने कहा था कि पाकिस्तान, अफगानिस्तान जैसे देशों में अगर मुस्लिम लोगों पर अत्याचार होता है तो वह दुनिया के अलग-अलग देशों में शरण ले सकते हैं। लेकिन बौद्ध, हिंदू, जैन, पारसी ऐसे लोगों के लिए भारत आश्रय देगा।
लोगों से भ्रम दूर करने की अपील की
गडकरी ने कहा कि भारत और यहां के लोगों ने दुनिया से यहां शरणार्थी बनकर आए सभी को स्वीकार किया। नितिन गडकरी ने कहा कि नागरिकता कानून से हिंदुस्तान के मुसलमानों को कोई नुकसान नहीं है। इस कानून से जुड़ी सच्चाई को लोगों तक पहुंचाने के लिए और लोगों का जनजागरण करने के लिए आप यू-ट्यूब और सोशल मीडिया पर इन बातों पर लिखें और जिन लोगों को गुमराह किया जा रहा है उन्हें जागरूक करें। आप इस सच्चाई को हमारे मुस्लिम भाई-बहनों को जरूर बताएं और उन्हें गुमराह होने से रोकें। बता दें कि नितिन गडकरी के इस भाषण से पहले महाराष्ट्र में रविवार को नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में सड़क पर उतरे लोगों ने विपक्ष के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की थी।
-एजेंसियां

The post तिरंगा यात्रा में गडकरी बोले, CAA को लेकर सोशल मीडिया पर सत्‍य शेयर करें appeared first on Legend News.



Post a Comment