COP 25 सम्मेलन में वैज्ञानिकों ने जारी की 'अनुत्क्रमणीय परिवर्तन' की चेतावनी

COP25 सम्मेलन में वैज्ञानिकों ने जलवायु पर कोई कार्रवाई नहीं किये जाने पर 'अनुत्क्रमणीय परिवर्तन' की चेतावनी जारी की है। यूनिवर्सिटी प्रोफेसर और "वर्ल्ड साइंटिस्ट्स वार्निंग ऑफ ए क्लाइमेट इमरजेंसी" के सह-लेखक, विलियम मूमाव ने कहा है कि वर्तमान वैश्विक प्रतिबद्धताएं जलवायु परिवर्तन के प्रभावों को रिवर्स करने के लिए पर्याप्त नहीं हैं।  

मोओमा द्वारा सह-लिखित एक अध्ययन जो नवंबर में बायोसाइंस पत्रिका में प्रकाशित हुआ था, जलवायु परिवर्तन के चलते होने वाली  'अनकही पीड़ा' की चेतावनी दी थी। इस अध्ययन का समर्थन 11,000 वैज्ञानिकों ने किया था। मैड्रिड में जलवायु वार्ता में शामिल पार्टियां COP25 सम्मेलन के अंत तक कार्बन उत्सर्जन से संबंधित मुद्दों को हल करने की उम्मीद कर रही हैं।

दुनिया भर में, वाइल्डफायर से लेकर बाढ़ तक के चरम मौसम को मानव निर्मित ग्लोबल वार्मिंग से जोड़ा जा रहा है, जो कि  इस सम्मेलन पर, तापमान में वृद्धि को सीमित करने वाले 2015 के पेरिस समझौते के कार्यान्वयन को मजबूत करने का दबाव डाल रहा है।

 



Post a comment