राष्ट्रपति ने 34वें सूरजकुंड अंतरराष्ट्रीय हस्तशिल्प मेले का किया शुभारंभ

शिल्पमेला पूरे भारत के हजारों शिल्पकारों को अपनी कला और उत्पादों को व्यापक दर्शकों को दिखाने में मदद करता है। पिछले वर्ष अफ्रीका और एशिया के 30 से अधिक देशों ने मेले में भाग लिया था। इस बार इंग्लैंड के पांच शिल्पी भी भाग लेंगी। इसके लिए सूरजकुंड मेला प्राधिकरण और ब्रिटिश काउंसिल के बीच एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए हैं।

इंग्लैंड सहित 40 देश मेले का हिस्सा होंगे, जिसमें पार्टनर कंट्री-उज्बेकिस्तान, अफगानिस्तान, आर्मेनिया, बांग्लादेश, भूटान, मिस्न, इथियोपिया, घाना, कजाकिस्तान, मलावी, नामीबिया, नेपाल, रूस, दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका, सूडान, सीरिया, तजाकिस्तान, थाईलैंड, ट्यूनीशिया, तुर्की, युगांडा, ब्रिटेन, वियतनाम और जिम्बाब्वे से उत्साही भागीदारी होगी।

मेले का आयोजन 1 फरवरी से 16 फरवरी तक किया जाएगा।



Post a Comment