दीपिका पादुकोण को मुझ जैसा कोई सलाहकार रख लेना चाहिए: रामदेव

 
इंदौर

योग गुरु रामदेव ने सोमवार को कहा कि सामाजिक, राजनीतिक और सांस्कृतिक मुद्दों की 'सही समझ' हासिल करने के लिए बॉलिवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण को उन जैसा कोई सलाहकार रख लेना चाहिए। रामदेव का यह बयान ऐसे वक्त में आया है, जब दिल्ली स्थित जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय परिसर में हाल में हुए हमले के बाद वहां जाने को लेकर 34 वर्षीय ऐक्ट्रेस को दक्षिणपंथी संगठनों और बीजेपी नेताओं की आलोचना का सामना करना पड़ रहा है।

'रखें स्वामी रामदेव जैसा सलाहकार'
रामदेव ने कहा है, 'दीपिका में अभिनय की दृष्टि से कुशलता होना अलग बात है लेकिन सामाजिक, राजनीतिक और सांस्कृतिक मुद्दों का ज्ञान हासिल करने के लिए उन्हें देश के बारे में और पढ़ना-समझना पड़ेगा। यह समझ हासिल करने के बाद ही उन्हें बड़े निर्णय लेने चाहिए।' उन्होंने कहा, 'मुझे लगता है कि दीपिका पादुकोण को स्वामी रामदेव जैसा कोई सलाहकार रख लेना चाहिए जो उन्हें ऐसे मुद्दों पर सही बात बता सके।'
 
जेएनयू में हुई हिंसा की घटना के बाद दीपिका पादुकोण का स्टूडेंट्स को सपॉर्ट शो करने के लिए वहां पहुंचना कई लोगों को रास नहीं आया। लोगों ने उनकी आलोचना करते हुए सोशल मीडिया पर ऐक्ट्रेस की फिल्म 'छपाक' को बॉयकॉट करने की मांग करना शुरू कर दी थी। वैसे यह पहली बार नहीं है कि दीपिका का नाम किसी विवाद से जुड़ा हो।
'पद्मावत' कॉन्ट्रोवर्सी
फिल्म 'पद्मावत' की शूटिंग से लेकर इसकी रिलीज तक देशभर में जगह-जगह ऐसे विरोध प्रदर्शन हुए कि पुलिस को फिल्म रिलीज के दिन खास सुरक्षा इंतजाम करने पड़े थे। करणी सेना का कहना था कि संजय लीला भंसाली ने इस फिल्म की कहानी में तथ्यों को गलत रूप में दिखाया है। इतना ही नहीं दीपिका को राजपूत रानी होने पर 'घूमर' सॉन्ग में नाचते हुए दिखाना और लहंगे में से उनकी कमर तक दिखने पर लोग भड़क गए थे। मामला इतना बढ़ा कि न सिर्फ डायरेक्टर व लीड स्टार्स के खिलाफ केस दर्ज किए गए, बल्कि दीपिका का तो सिर काटने तक की धमकी दे दी गई थी।
'बाजीराव मस्तानी' कॉन्ट्रोवर्सी
पेशवा बाजीराव और मस्तानी के वंशजों ने संजय लीला भंसाली पर इस फिल्म में इतिहास में दर्ज तथ्यों के साथ छेड़छाड़ का आरोप लगाया था। उन्होंने इस फिल्म पर रोक लगाने की मांग करने के साथ ही दीपिका और रणवीर का भी विरोध किया था। यहां तक कि इनके खिलाफ केस भी दर्ज किया गया था।
'गोलियों की रासलीला राम-लीला' कॉन्ट्रोवर्सी
संजय लीला भंसाली की फिल्म 'गोलियों की रासलीला राम-लीला कॉन्ट्रोवर्सी' में पहली बार दीपिका और रणवीर की जोड़ी जमी थी। इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर परफॉर्म भी अच्छा किया था, लेकिन लोगों को इसके बोल्ड कॉन्टेंट और डायलॉग के साथ फिल्म के टाइटल में 'रामलीला' आना रास नहीं आया। वे फिल्म व इसके लीड ऐक्टर्स के खिलाफ कोर्ट पहुंच गए। अंत में संजय को अपनी मूवी का नाम बदलना पड़ा।
 सिद्धार्थ माल्या और दीपिका का किस
साल 2011 में दीपिका का नाम विजय माल्या के बेटे सिद्धार्थ माल्या के साथ जुड़ा था। दीपिका आईपीएल में विजय माल्या की टीम आरसीबी का सपॉर्ट करने भी पहुंची थीं। केकेआर को मात देने पर जब टीम और बाकी सभी लोग जश्न मना रहे थे तो इस दौरान सिद्धार्थ और दीपिका ने एक-दूसरे को हग किया, जिसके बाद दोनों ने किस किया। पब्लिक में दोनों का ऐसा करना लोगों को बिल्कुल भी पसंद नहीं आया और उन्होंने इसकी जमकर आलोचना की।
रणबीर कपूर पर बयान
रणबीर कपूर से ब्रेकअप के बाद जब दीपिका करण जौहर के चैट शो 'कॉफी विद करण' में पहुंची तो उनसे सवाल किया गया कि अगर उन्हें ऐक्टर को गिफ्ट देना पड़े तो क्या देंगी। इस पर दीपिका ने कहा था कि वह रणबीर को कॉन्डम गिफ्ट करेंगी क्योंकि वह इसका बहुत ज्यादा इस्तेमाल करते हैं। इस बयान ने जमकर सुर्खियां बटोरी। वहीं कुछ लोगों ने दीपिका के अपने एक्स बॉयफ्रेंड पर किए गए इस कॉमेंट की काफी आलोचना भी की।
सॉन्ग 'दम मारो दम' कॉन्ट्रोवर्सी
साल 2011 में आई फिल्म 'दम मारो दम' में दीपिका पादुकोण का खास आइटम नंबर था। इस टाइटल सॉन्ग में न सिर्फ दीपिका के बोल्ड लुक बल्कि लिरिक्स को भी लोगों से सिर्फ आलोचना ही मिली। यहां तक ऑरिजनल सॉन्ग 'दम मारो दम' में स्टार रहीं जीनत अमान ने भी इस गाने पर अपनी नाराजगी जाहिर की थी।
शादी भी रही विवाद का हिस्सा
दीपिका और रणवीर की शादी यूं तो ड्रीम वेडिंग थी, लेकिन इटली में हुई इस रॉयल वेडिंग को लेकर सिख समुदाय द्वारा नाराजगी दर्ज करवाई गई थी। दरअसल, इस स्टार कपल ने आनंद कारज परंपरा से भी शादी की थी। इसके लिए उनके वेडिंग डेस्टिनेशन पर मेकशिफ्ट गुरुद्वारा बनाया गया था। इटली के सिख समुदाय प्रमुख का कहना था कि गुरु ग्रंथ साहिब को गुरुद्वारे से बाहर ले जाने की इजाजत नहीं है, लेकिन दीपिका-रणवीर की शादी में ऐसा हुआ। इसे लेकर अकाल तख्त प्रमुख तक से शिकायत की गई थी।
  



Post a Comment