कोर्ट पर वापसी से पहले बोलीं सानिया, नर्वस से ज्यादा उत्साहित हूं

नई दिल्ली 
अक्टूबर, 2017 में सानिया मिर्जा ने अपना आखिरी प्रफेशनल टेनिस मैच चाइना ओपन में खेला था। उसके बाद घुटने की चोट के कारण वह तकलीफ में रहीं और फिर खबर आई कि वह मातृत्व अवकाश पर हैं। 2018 में वह मां बनीं। उसके बाद ऐसा लग रहा था कि 33 साल की यह खिलाड़ी शायद ही पेशेवर टेनिस में वापसी करे। लेकिन पिछले साल नवंबर में सानिया ने आधिकारिक पुष्टि की कि वह फिर से कोर्ट पर उतरने जा रही हैं। मां बनने के बाद से ही सानिया लगातार फिटनेस को लेकर अपनी कोशिशों की तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर करती रही हैं। सानिया अब 13 जनवरी से अपना प्रफेशनल करियर फिर से शुरू करने जा रही हैं। कोर्ट पर वापसी से पहले उन्होंने NBT से एक्सक्लूसिव बातचीत में कहा कि वह अपनी वापसी को लेकर नर्वस से ज्यादा उत्साहित हैं। 

यहां से सब कुछ बोनस 
सानिया ने अपने इस पहले टूर्नामेंट के बारे में कहा कि वह दो साल से ज्यादा समय के बाद वापसी को लेकर पूरी तरह तैयार हैं। सानिया के मुताबिक, 'मैं वाकई उत्साहित हूं अपनी वापसी को लेकर। थोड़ी नर्वस तो हूं लेकिन उससे कहीं ज्यादा उत्साह से भरी हूं।' सानिया ने कहा कि वह इसको लेकर इमोशनल भी हो रही हैं लेकिन यह उस तरह का नहीं है जैसा कि उनके प्रफेशनल करियर के शुरुआत में था। उन्होंने कहा, 'मैंने अपने प्रफेशनल करियर में चोटिल होने के बाद कई बार वापसी की है। पर, ऐसा कोई मौका नहीं था जब मैंने दो साल के बाद वापसी की हो। यहां से जो भी होगा वह मेरे करियर और जिंदगी के लिए बोनस होगा।' 

शुरू में था थोड़ा संदेह 
मां बनने के बाद से सानिया ने 26 किलो वजन घटाया है लेकिन वह कहती हैं कि इसका वापसी से कुछ लेना-देना नहीं था। उन्होंने अपने आप को हेल्दी रखने की योजना बनाई और यह उसी का हिस्सा था। सानिया ने कहा, 'ऐसा नहीं था कि वजन कम करना टेनिस में मेरी वापसी से जुड़ा था। अब मैं हर रोज 4 से 5 घंटे जिम या कोर्ट पर दे रही हूं। फिजिकली यह काफी चुनौतीपूर्ण था क्योंकि मां बनने के बाद आपके शरीर में बहुत सारे बदलाव आते हैं।' सानिया के मुताबिक शुरू में उन्हें थोड़ा संदेह था लेकिन एक बार जब उनके शरीर ने साथ देना शुरू किया और उन्होंने लय पकड़ी तो फिर मानसिक तौर पर भी मजबूत हुईं और वापसी के बारे में सोचने लगीं। सानिया ने हालांकि बताया कि उन्होंने हाल फिलहाल मां बनी किसी भी टेनिस खिलाड़ी से इस बारे में सलाह नहीं ली थी और ना ही वापसी को लेकर किसी से चर्चा की थी। 

इजहान होगा साथ 
सानिया ने बताया कि वह अपने बेटे इजहान को मिस नहीं करना चाहतीं। ‌इसी वजह से वह उसे साथ लेकर ट्रेवल करेंगी। सानिया के मुताबिक, 'मैं काफी इमोशनल इंसान हूं। ऐसा नहीं हो सकता कि इजहान के बगैर हफ्तों तक बाहर रह सकूं। इसलिए मैंने फैसला लिया है कि वह टूर पर मेरे साथ ही होगा।' 

शोएब भी आएंगे 
क्या सानिया की वापसी पर उनके पति शोएब मलिक भी उसी तरह उनके साथ होंगे जैसे कि मां बनने के बाद जब सेरेना विलियम्स ने वापसी की थी तो उनके पति एलेक्सिस ओहानियन साथ थे? सानिया कहती हैं, 'शोएब कभी-कभी साथ जरूर होंगे लेकिन चूंकि वह भी खेलते हैं और उन्हें भी काफी ट्रेवल करना पड़ता है तो वह पूरे समय मेरे साथ टूर पर नहीं रह सकते।' 

राजीव,नादिया का साथ 
सानिया होबार्ट इंटरनैशनल टूर्नमेंट से शुरुआत करने जा रही हैं जहां वह डबल्स में उतरेंगी। उसमें उनका साथ देंगी उक्रेन की नादिया किचेनोक। 27 साल की नादिया दुनिया की 46वीं रैंकिंग्स वाली खिलाड़ी हैं। होबार्ट के बाद ऑस्ट्रेलियन ओपन में सानिया के मिक्स्ड डबल्स पार्टनर अमेरिका के राजीव राम होंगे। 35 साल के राजीव ऑस्ट्रेलियन ओपन के मौजूदा मिक्स्ड डबल्स चैंपियन हैं। सानिया राजीव को तब से जानती हैं जब वह जूनियर लेवल पर खेलती थीं। सानिया ने अपने इन दोनों शुरुआती पार्टनर्स के बारे में बताया, 'मैंने दोनों के साथ पहले कभी नहीं खेला लेकिन शुरुआत में यह देखना जरूरी था कि आप किसके साथ सहज रहते हैं।' सानिया ने कहा कि बाद में वह जरूर चाहेंगी कि ऐसा पार्टनर तलाशें जिसके साथ पूरा सीजन खेला जा सके। हालांकि, यह सब निर्भर करेगा कि टूर पर शुरुआती तीन हफ्ते और उसके बाद फेड कप खेलते हुए उनका शरीर कितना साथ देता है। 

फोरहैंड पर भरोसा 
सानिया अपने फोरहैंड शॉट्स के लिए मशहूर हैं। वापसी पर भी वह अपने इसी मजबूत शॉट पर भरोसा करेंगी। हालांकि, उन्होंने कहा कि शुरुआती कुछ मैच खेलने के बाद वह तय करेंगी कि उनको खेलने की अपनी स्टाइल में बदलाव करना है कि नहीं। सानिया बताती हैं, 'दो साल लंबा समय होता है। इस दौरान टेनिस में भी काफी कुछ बदला होगा। एक दफा जब मैं खेलना शुरू करूंगी तभी पता लगेगा कि मुझे क्या बदलाव करने की जरूरत है।' 

ओलिंपिक्स अभी दूर 
क्या एक बार फिर ओलिंपिक्स में मेडल जीतने की कोशिश करेंगी? रियो ओलिंपिक्स में मिक्स्ड डबल्स का ब्रॉन्ज मेडल चूकीं सानिया कहती हैं,'दिमाग के किसी कोने में जरूर है कि यह ओलिंपिक्स का साल है। लेकिन, एक टेनिस प्लेयर के तौर पर यह बहुत मुश्किल होता है कि हम उन मुकाबलों के बारे में सोचें जो काफी दूर हैं। मैं फिलहाल तोक्यो2020 पर फोकस नहीं कर रही हूं।' सानिया ने कहा कि अभी से यह नहीं सोचा जा सकता कि वह खेलेंगी या नहीं या फिर खेलेंगी तो किसके साथ। 

सानिया के बाद कौन ? 
महिला टेनिस में सानिया के बाद उनके स्तर की कोई दूसरी खिलाड़ी नहीं हुई। देश को दूसरी सानिया मिर्जा कब मिलेगी? सानिया इस सवाल पर कहती हैं, 'काश मुझे इसका जवाब पता होता। मुझे मालूम है कि कुछ लड़कियां बेहद अच्छी हैं। टैलंट की कमी नहीं है। उम्मीद करती हूं कि जल्द ही कोई न कोई ऐसी भारतीय खिलाड़ी निकलेगी जो ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट में लगातार भारत का प्रतिनिधित्व करेगी।' 



Post a Comment