श्रीलंकाई खिलाड़ी कुशल, परिस्थितियों के अनुसार ढलने की जरूरत: कोच ऑर्थर

पुणे 
नव नियुक्त कोच मिकी ऑर्थर को श्रीलंकाई क्रिकेटरों के कौशल पर जरा भी संदेह नहीं है लेकिन उन्हें लगता है कि उन्हें अभी मैच के दौरान खेल की अलग-अलग परिस्थितियों के हिसाब से ढलने की जरूरत है। ऑर्थर को पिछले साल दिसंबर में श्रीलंका का कोच नियुक्त किया गया। उन्होंने गुरुवार को कहा कि श्रीलंकाई खिलाड़ियों केा खेल के छोटे पहलुओं पर काम करने की जरूरत है जैसे मैच प्रबंधन, खेल रणनीति और इस साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप से पहले की योजना। ऑर्थर ने भारत के खिलाफ शुक्रवार को होने वाले तीसरे और अंतिम टी20 इंटरनैशनल मैच से पहले कहा, ‘हमारे पास कई खिलाड़ी हैं जो बहुत निपुण हैं और खेल योजना, रणनीति और मैच प्रबंधन के लिहाज से हमें उन्हें थोड़ा सिखाने की जरूरत है। हमें उन्हें समझाना होगा कि कब जोखिम उठाएं और कब नहीं।’

उन्होंने कहा, ‘हम स्ट्राइक रोटेट करने पर काफी मेहनत कर रहे हैं। ये छोटी छोटी चीजें हैं, हम जिन पर काम कर रहे हैं। हर मुकाबले के बाद हमें बेहतर से बेहतर होने की जरूरत है और आठ महीने बाद हम टी20 वर्ल्ड कप में भाग ले रहे होंगे।’ नए पद पर अपने पहले दौरे पर ऑर्थर का मुख्य ध्यान टीम में सही संतुलन लाने और टी20 वर्ल्ड कप से पहले श्रीलंका के मैचों में विशेष भूमिकाओं के लिए खिलाड़ियों केा ढूंढने पर लगा है। कोच ने कहा कि विश्व क्रिकेट में भारत से लगातार प्रतिभाशाली खिलाड़ियों की निकलती जमात से उनकी बेंच स्ट्रेंथ का पता चलता है। उन्होंने कहा, ‘भारत कुछ अच्छे खिलाड़ियों को आजमा रहा है और यहां प्रतिभाओं की भरमार है। वे जो खिलाड़ी ला रहे हैं, वे आकर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हैं। यह दिखाता है कि अब उनका ढांचा कितना मजबूत है।’    



Post a comment