साली से शादी के लिए करवा दी पत्नी की हत्या

गाजियाबाद
लोनी के बेहटा हाजीपुर मेवात चौक के पास 11 जनवरी को कारोबारी आसिफ के घर लाखों की लूट और विरोध करने पर पत्नी समरीन की हत्या में पुलिस ने बुधवार को खुलासा किया। एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि पूरी वारदात की स्क्रिप्ट कारोबारी आसिफ ने ही तैयार की थी। वह अपनी साली से शादी करना चाहता था। चूंकि उसकी शादी कुछ महीने बाद ही होनी थी इसलिए उसे रोकने के लिए उसने अपने दो दोस्तों की मदद से 3 बदमाशों को वारदात के लिए 2 लाख रुपये की सुपारी दी। किसी को शक न हो इसलिए उसने मामला लूट का बनाया। एसएसपी ने बताया कि पुलिस ने आसिफ समेत वारदात की प्लानिंग करने वाले इसके दो दोस्तों रवि और संदीप को गिरफ्तार किया है। घर में 3 बदमाश घुसे थे, इसमें एक सुनील शर्मा सुपारी लेने वाला भी था। पुलिस इन तीनों की तलाश कर रही है। एसएसपी ने वारदात का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को 20 हजार रुपये इनाम देने की भी घोषणा की है।

एसएसपी ने बताया कि आसिफ की अपनी साली से करीब 3 साल से नजदीकियां थीं। उसकी पत्नी समरीन इसका विरोध कर रही थी। इस कारण दोनों के बीच अक्सर झगड़ा भी होता था। आसिफ पत्नी को रास्ते से हटाने की प्लानिंग पिछले डेढ़ साल से कर रहा था। उसने करीब 6 महीने पहले समरीन को ठिकाने लगाने के लिए अपने एक दोस्त रवि जो पेशे से झोलाछाप डॉक्टर है से मदद मांगी थी। पूछताछ में रवि ने बताया कि आसिफ के कहने पर बीमार होने पर उसने समरीन को दवा बताकर जहरीला इंजेक्शन भी लगाया था, लेकिन वह बच गई थी। इसके लिए आसिफ ने रवि को 30 हजार रुपये भी दिए थे।

सुपारी के 90 हजार अडवांस में दिए थे
इस बीच आसिफ की साली की शादी मार्च में ठीक हो गई। शादी रुकवाने के लिए उसने फिर से पत्नी की हत्या का प्लान बनाया। इसके लिए उसने रवि के कहने पर एक और झोलाछाप डॉक्टर संदीप से संपर्क किया। संदीप ने अपने दूर के एक साले सुनील शर्मा (मुरादाबाद) को इसके लिए 2 लाख रुपये की सुपारी दिलाई। इसके 90 हजार रुपये एडवांस में दिए गए। सुनील पर मुरादाबाद और उत्तराखंड के कई जिलों में लूट व हत्या के मामले दर्ज हैं।

शाम को ही घर में छिपा लिया था बदमाशों को
एसएसपी ने बताया कि आसिफ ने स्वीकार किया है पत्नी की हत्या के लिए 11 जनवरी को रात करीब 9 बजे ही उसने सुनील और उसके दो अन्य साथियों को अपने घर के ग्राउंड फ्लोर पर बने स्टोर में छिपा दिया था। देर रात को उन्होंने समरीन की हत्या कर दी। वारदात लूटपाट लगे इसलिए उसने बदमाशों से अपने हाथ-पांव बंधवा लिए और कुछ सामान भी लेकर फरार करवा दिया। इससे उसके बच्चों और साले को भी असलियत न पता लगे।

बच्चों का वास्ता देकर साली से करता शादी
साली से शादी करने के लिए पत्नी को रास्ते से हटाने के आरोपी आसिफ ने पुलिस को बताया कि उसका प्लान था कि पत्नी की हत्या के बाद कुछ दिन के लिए शादी टल जाएगी। इसके बाद वह ससुराल पक्ष को अपने छोटे बच्चों को मां की कमी पूरा करने के उनकी मौसी (साली) से अपनी शादी का प्रस्ताव रख देगा।



Post a comment