पंचायत चुनाव से ठीक पहले तीन IAS अधिकारियों का तबादला, बड़ा ऐलान कर सकती है सरकार!

रायपुर
 छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की कांग्रेस (Congress) सरकार ने मंगलवार को एक बड़ी प्रशासनिक सर्जरी कर दी है. बता दें कि राज्य सरकार ने सूबे में होने वाले पंचायत चुनाव (Panchayat Election) से ठीक पहले बेमेतरा (Bemetara) कलेक्टर का तबादला कर दिया है. शिखा राजपूत तिवारी को बेमेतरा कलेक्टर के पद से हटाकर गौरेला-पेंडरा-मरवाही की ओएसडी (OSD) बना दिया है. इसी तरह रायपुर निगम आयुक्त का भी तबादला कर दिया गया है. मालूम हो कि सामान्य प्रशासन विभाग (General Adminstration Department) की ओर से तबादले का ये आदेश जारी किया गया है. इस फैसले के बाद राजनीतिक गलियारों में चर्चाएं तेज हो गई हैं. सूत्रों की मानें तो सीएम भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) जल्द एक बड़ा ऐलान कर सकते हैं. अधिकारियों का फेरबदल इसी लिहाज से किया जा रहा है. फिलहाल सूबे के राजनीतिक समीकरण के हिसाब से सरकार के इस फैसले को काफी अहम भी माना जा रहा है.

राज्य शासन के सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा जारी आदेश के मुताबिक शिखा राजपूत तिवारी को बेमेतरा कलेक्टर के पद से हटा दिया गया है. अब उन्हें गौरेला-पेंडरा-मरवाही का ओएसडी बना दिया गया है. वैसे ही शिव अनंत तायल को रायपुर नगर पालिक निगम आयुक्त के  पद से हटाकर बेमेतरा कलेक्टर की जिम्मेदारी दी गई है. तो वहीं सौरव कुमार को शिव अनंत तायल की जगह रायपुर निगम आयुक्त की जिम्मेदारी दी गई है.

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सरकार ने मरवाही को जिला बनाने की तैयारी शुरु कर दी है. कहा जा रहा है कि सीएम भूपेश बघेल से भी इसकी मंजूरी मिल गई है. इसी वजह से शिखा राजपूत तिवारी को गौरेला-पेंडरा-मरवाही का ओएसडी बनाया गया है. हालांकि अभी ऐसी कोई भी औपचारिक घोषणा सरकार की और से नहीं की गई है. सूत्रों की मानें तो अभी सरकार में इस बात को लेकर कंफ्यूजन है कि जिले का एक नाम होगा या तीन नाम गौरेला-पेंडरा-मरवाही मिलाकर जिले का नाम रखा जाएगा.



Post a Comment