JNU: आज से कक्षाएं शुरू, HRD मिनिस्ट्री अलर्ट

नई दिल्ली
मानव संसाधन विकास (HRD) मंत्रालय ने पिछले हफ्ते प्रदर्शनकारी JNU छात्रों और यूनिवर्सिटी प्रशासन और कुलपति के बीच समाधान निकालने की काफी कोशिशें कीं। मंत्रालय अब उम्मीद कर रहा है कि 13 जनवरी को कक्षाएं दोबारा शुरू होने के बाद यूनिवर्सिटी में हालात सामान्य होने की तरफ बढ़ेंगे। अधिकारियों को उम्मीद है कि अधिकतर छात्र कक्षाओं का बहिष्कार करने की जगह क्लास आने का विकल्प चुनेंगे। करीब 4,000 यानी JNU के करीब 50 पर्सेंट छात्र पहले ही विंटर सेमेस्टर के लिए रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं। मंत्रालय को उम्मीद है कि पिछले 2-3 दिनों में यह संख्या और बढ़ गई होगी और अधिकतर छात्र क्लास करने आएंगे।

मामले के समाधान के तहत हॉस्टल फीस में बढ़ोतरी जैसे अहम मुद्दे पर ध्यान दिया गया है और अधिक संख्या में छात्र सेमेस्टर के लिए रजिस्ट्रेशन करा रहे हैं। ऐसे में कैंपस में जारी विरोध प्रदर्शनों में शायद थोड़ी कमी आनी चाहिए, जो पिछले 76 दिनों से जारी है। यूनिवर्सिटी में सोमवार से कक्षाएं दोबारा शुरू होने की उम्मीद है। ऐसे में कैंपस के हालात और छात्रों के विरोध प्रदर्शन पर मंत्रालय की इस हफ्ते करीबी नजर होगी।

छात्रसंघ ने वापस नहीं लिया है विरोध प्रदर्शन
JNU छात्रसंघ ने अभी तक विरोध प्रदर्शन को वापस लेने का ऐलान नहीं किया है। हालांकि उसने कहा है कि अगर हॉस्टल फीस में बढ़ोतरी को वापस ले लिया जाएगा तो वह छात्रों को रजिस्ट्रेशन कराने से नहीं रोकेगा। छात्रसंघ ने कुलपति को हटाने की भी मांग की है, जिसे HRD मंत्रालय ने अभी तक खारिज किया है।

छात्रों के साथ संवाद पर मंत्रालय ने दिया जोर
JNU कुलपति और मंत्रालय के बीच पिछले हफ्ते तीन बैठक हुई थीं। इनमें मंत्रालय ने जोर देकर कहा कि छात्रों से संवाद करने के लिए कुलपति को और प्रयास करने की जरूरत है। कुलपति एम जगदीश कुमार ने 11 जनवरी को कुछ छात्रों के साथ बैठक भी की थी। 12 जनवरी को उन्होंने मीडिया के जरिए छात्रों से पुरानी बातों को पीछे छोड़ने की अपील की थी। उन्होंने कहा था, 'जो चीजें हो गईं, अब उन्हें बदला नहीं जा सकता। अब इन बातों को पीछे छोड़ देना चाहिए। हम किसी पर अंगुली उठाने या उसे दोषी ठहराने की कोशिश नहीं कर रहे हैं। हमारे लिए सबसे अहम यह है कि यूनिवर्सिटी सुचारू रूप से चले और हमें इस दिशा में बढ़ना चाहिए।'

सभी छात्रों से यूनिवर्सिटी में वापस आने की अपील
JNU प्रशासन ने 11 जनवरी को एक नोटिस भी जारी किया था, जिसमें कहा गया था कि यूनिवर्सिटी में सभी कक्षाएं और शैक्षणिक गतिविधियां 13 जनवरी से शुरू होंगी। नोटिस में सभी छात्रों से यूनिवर्सिटी में वापस आने की अपील की गई थी। नोटिस में कहा गया है, 'विंटर सेमेस्टर के लिए रजिस्ट्रेशन प्रोसेस सुचारू रूप से चल रही है और कैंपस में शांतिपूर्ण माहौल है। जो छात्र अपने घर या आउटस्टेशन चले गए थे, उनसे अपनी पढ़ाई और रिसर्च पूरी करने के लिए यूनिवर्सिटी में लौटने का आग्रह किया जाता है।'



Post a Comment