स्थानीय निर्वाचन में लगे सेक्टर अधिकारियों का अन्तिम चरण का प्रशिक्षण संपन्न

सूरजपुर, जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर श्री दीपक सोनी के निर्देशन एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री वहिर्दुरहमान की मार्गदर्षन में त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन चुनाव में ड्यूटी लगाये गये 68 सेक्टर अधिकारियों का प्रशिक्षण जिला पंचायत के सभाकक्ष में संपन्न हुआ। जिसमें सेक्टर अधिकारियों को मतदान केन्द्रों में कम से कम चुनाव पूर्व 3 दिन दौरा करना अनिवार्य बताया गया। मतदान केन्द्र पर बुनियादी सुविधायें हैं या नहीं इसकी जानकारी सर्वप्रथम ली जायेगी जिसमें जल की व्यवस्था, बिजली, वाललेखन में मुख्य रूप से मतदान केन्द्र का नाम, क्रमांक और दिनांक लिखना अनिवार्य है। मतदान केन्द्र में दिव्यांगों की सुविधा के लिए रैम्प की सुविधा भी सुनिश्चित करना अनिवार्य है तथा मतदान के अंदर एवं मतदान केन्द्र के 200 मीटर की परिधी में आदर्श आचर संहिता के प्रावधानों का पालन हो रहा है या नहीं इसकी जानकारी भी जिला निर्वाचन अधिकारी के समक्ष 03 दिवस में दी जायेगी।
मतदान के दौरान सेक्टर अधिकारियों को कम से कम एक मतदान केन्द्र में 03 बार दौरा करना अनिवार्य होगा एवं पीठासीन अधिकारी के पास उपलब्ध विजीट सीट में दौरे का समय और हस्ताक्षर अनिवार्य है। प्रत्येक दो-दो घण्टे की जानकारी एवं मतदान की संपूर्ण प्रक्रिया की व्याहारिक जानकारी भी दी गई। जिसमें गोदरेज एवं छत्तीसगढ़ टाईप की पेटीयों को खोलना व सील बंद करना एवं मतदान के दौरान स्थानीय निर्वाचन चुनाव के विभिन्न अधिनियमों के तहत् अपने साथ-साथ मतदान केन्द्र में पदस्थ कर्मचारियों पर भी धारा 5 एवं 8 लागु रहेगा। कर्मचारी एवं अधिकारी किसी भी अभ्यर्थी के पक्ष में याचना एवं निर्देश किसी भी मतदाता एवं एजेंट को नही दे सकेंगें। साथ ही साथ मतदान केन्द्र की 200 मीटर की परिधी में धारा 7,8,9,10,11 पूर्णतः मतदान दिवस में लागू रहेगा। मतदान समाप्ति के पश्चात् निर्धारित वाहन एवं निर्धारित रूट से ही रिटर्निंग आफिसर के संग्रहण केन्द्र में दलों को लेकर जायेंगें जहाॅ सामग्री जमा की जायेगी। जबतक समस्त मतदान केन्द्र के दलों का एवं मतदान का प्रतिशत् महिला/पुरूष के आंकडे़ का मिलान नहीं हो जाता तबतक सेक्टर अधिकारी संग्रहण केन्द्र में तैनात रहेंगें। रिटर्निंग आफिसर के द्वारा मतदान पश्चात् सेक्टर अधिकारियों को कार्यमुक्त किया जायेगा।
यह प्रशिक्षण जिला स्तरीय मास्टर ट्रेनर श्री पी.सी.सोनी प्राचार्य एवं डाॅ0 महेन्द्र  पाण्डेय पशु चिकित्सा अधिकारी बिश्रामपुर के द्वारा संपन्न कराया गया।

Post a comment