ट्रंप को ईरान से जंग छेड़ने से रोकने के लिए US संसद में होगी वोटिंग

 
वॉशिंगटन 
अमेरिकी सेना ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के आदेश पर ईरान के शीर्ष सैन्य कमांडर जनरल कासिम सुलेमानी को मार गिराया था. अमेरिकी हमले में सुलेमानी के मारे जाने के बाद ईरान ने तेहरान की पवित्र मस्जिद पर लाल झंडा फहराकर युद्ध का ऐलान कर दिया और अमेरिकी ठिकानों पर मिसाइल और रॉकेट हमले शुरू कर दिए.

ईरान ने इराक की राजधानी बगदाद में अमेरिकी दूतावास को निशाना बनाकर मिसाइलें दागीं. अमेरिकी सेना के बेस पर भी हमला किया. इस हमले में 80 सैनिकों के मारे जाने का दावा किया. ईरान के इस कदम के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने राष्ट्र को संबोधित किया और ईरान पर नकेल कसने के लिए रूस, चीन, फ्रांस आदि देशों का सहयोग मांगा. दोनों देशों के बीच बढ़ते तनाव के बीच अब राष्ट्रपति ट्रंप को ईरान से युद्ध करने से रोकने के लिए वोटिंग होगी.
 
अमेरिकी हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स की स्पीकर नैंसी पेलोसी के हवाले से समाचार एजेंसी एएनआई की खबर के अनुसार वोटिंग गुरुवार को होगी. अमेरिकी संसद में ईरान से युद्ध के मसले पर वोटिंग ऐसे समय में हो रही है, जब दोनों देशों के बीच तनाव चरम पर है. अमेरिकी सैन्य कार्रवाई में शीर्ष सैन्य कमांडर के मारे जाने के बाद ईरान ने बदला लेने का ऐलान किया है और अमेरिकी ठिकानों को निशाना बना रहा है.

बता दें कि अमेरिकी संसद में वोटिंग की खबर के ठीक पहले इराक की राजधानी बगदाद में ग्रीन जोन में मिसाइल हमले की खबर आई. इराकी सेना के अनुसार ग्रीन जोन को निशाना बनाकर दो मिसाइलें दागी गई थीं. हालांकि इस हमले में किसी नुकसान की खबर नहीं है.



Post a comment