पीएम मोदी ने संसद के दोनों सदनों में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव का दिया जवाब

राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब में प्रधानमंत्री ने कहा कि अगर वो पुरानी कांग्रेस सरकारों की तरह काम कर रहे होते तो तमाम समस्याओं का समाधान न हो पाता । प्रधानमंत्री ने संशोधित नागरिकता कानून के मसले पर विस्तार से बात रखी और कांग्रेस पर देश के मुसलमानों के बीच भ्रम फैलाने का आरोप लगाया । प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस पाकिस्तान की भाषा बोल रही है।  

पीएम ने तमाम पुराने उदाहरणों और भाषणों के जरिए बताया कि कैसे सीएए की जरुरत लंबे समय से महसूस की जा रही थी । प्रधानमंत्री ने एक बार फिर से देश की जनता को भरोसा दिलाया कि सीएए से कि देश के किसी नागरिक की नागरिकता नहीं जाएगी । 

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को समाप्त करने के मसले पर पीएम मोदी ने कहा कि कश्मीर में शांति और तीव्र विकास के लिए ये फैसला लिया गया । कश्मीर को भारत का ''मुकुटमणि''करार देते हुए पीएम ने कहा कि उसकी पहचान बम, बंदूक और अलगाववाद की बना दी गई थी । अनुच्छेद 370 को समाप्त करने को संविधान के विरूद्ध बताने के कुछ  कश्मीरी नेताओं का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा कि  संविधान को मानने वाले लोग ऐसी बात को कैसे स्वीकार कर सकते हैं ।

दिल्ली की एक रैली में बुधवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के बयान का हवाला देते हुए पीएम ने बिना नाम लिए उन पर हमला बोला और कहा कि अब वो सूर्य नमस्कर की संख्या इतनी बढ़ा देंगे ताकि उनकी डंडे झेल सके।'''

प्रधानमंत्री ने बोडो समझौते का भी जिक्र किया और कहा कि इससे पूर्वोततर में नया सवेरा होगा । पीएम ने कहा कि पहले की सरकारों ने समझौते राजनीति के तराजू से तौलकर और आधे-अधूरे मन से किए गए ।

पीएम ने सदन में बेहद भावनात्मक अपील के साथ अपना भाषण खत्म किया ।
 



Post a comment