कोरोना संक्रमण से बचने अभी भी सावधानी जरूरी : मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल


रायपुर, 25 मई 2021। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने राज्य में कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति के संबंध में प्रदेशवासियों को संबोधित करते हुए कहा है कि इससे बचाव के लिए अभी भी हमें सतर्क रहने और सावधानी बरतने की जरूरत है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर का प्रकोप अभी कम हुआ है। संक्रमण की रफ्तार में कमी आई है, परंतु यह पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है। इस बात का  हम सबको भलीभांति ध्यान रखना है और कोरोना एप्रोप्रियेट बिहेवियर को छोड़ना नहीं है बल्कि इसको उस वक्त तक अपने दैनिक जीवन में अपनाएं रखना है, जब तक यह पूरी तरह खत्म न हो जाए।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि कोरोना से बचाव के लिए फिलहाल सावधानी बरतना और टीका ही एकमात्र हथियार है। टीका लगवाने में कोई खतरा नहीं है, बल्कि यह हमें भविष्य में होने वाले खतरे से बचायेगा। उन्होंने प्रदेश के नागरिकों को संबोधित करते हुए कहा कि यह समय सबसे अधिक सावधानी रखने का है। उन्होंने सभी पात्र लोगों से कोरोना से बचाव का टीका लगवाने की अपील की। श्री बघेल ने कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण में सहयोग के लिए नागरिकों, जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों-कर्मचारियों, सामाजिक संगठनों, स्वयं सेवी संस्थाओं और मीडिया को धन्यवाद दिया।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने अपने संदेश में कहा कि- पिछले डेढ़ माह से हम सब कोरोना की दूसरी लहर की चुनौती का सामना कर रहे हैं। कोविड संक्रमण के खिलाफ यह लड़ाई कठिन थी, लेकिन हम सबने पूरी जिम्मेदारी से यह लड़ाई लड़ी। इस लड़ाई का कठिन समय अब गुजर चुका है और कोविड संक्रमण की स्थिति हमारे राज्य में अब काफी नियंत्रण में है। उन्होंने कहा कि एक समय हमारे राज्य में संक्रमण का आंकड़ा 17 हजार तक पहुंच गया था जो अब घटकर चार हजार के लगभग हो गया है। पॉजिटिविटी की दर भी अब घटकर 5 प्रतिशत के लगभग आ गयी है। कोरोना की किसी भी चुनौती से निपटने के लिए राज्य सरकार पूर्ण रूप से तैयार है। हमने इससे निपटने के लिए सभी आवश्यक संसाधन जुटा लिए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड संक्रमण को नियंत्रण में लाने में बहुत सारे लोगों का कठिन परिश्रम और दिन-रात की मेहनत शामिल है। हमारे चिकित्सक, हमारे स्वास्थ्य कार्यकर्ता, हमारी नर्स, मितानिन बहनें, जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन और महिला बाल विकास विभाग के अधिकारी-कर्मचारी, नगरीय निकायों और पंचायती राज संस्थाओं के अधिकारी-कर्मचारी, सभी जनप्रतिनिधिगण, सफाईकर्मी भाई-बहन, स्वयंसेवी संस्थायें और आमजन तक सही जानकारी पहुंचाने में सहयोगी बने जनसंपर्क विभाग के अधिकारी और मीडिया के मित्रों का योगदान सराहनीय है।

श्री बघेल ने प्रदेश के नागरिकों से अपील की है कि यह समय सतर्क रहकर अपनी जिम्मेदारियां वहन करने का है। हम धीरे-धीरे लॉकडाउन की स्थिति से बाहर निकल कर पहले की भांति सामान्य कामकाज की और लौट रहे हैं। यह समय सबसे अधिक सावधानी रखने का है। इस समय हमें बिल्कुल भी लापरवाही नहीं करना है। हमें अपनी, अपने परिवार की और अपने राज्य के निवासियों की सुरक्षा का पूरा ध्यान रखना है। उन्होंने कहा कि आवश्यक होने पर ही घर से बाहर निकलें, घर से बाहर निकलते समय, ऑफिस, बाजार, फैक्ट्री, खेत, खलिहान की ओर जाते समय पूरी सुरक्षा और सावधानी रखें। घर से बाहर निकलते समय हमेशा मास्क पहनें और लोगों से एक निश्चित दूरी बनाये रखें। हाथों को बार-बार साबुन से या सैनिटाईजर के उपयोग से साफ करते रहें।

मुख्यमंत्री ने लोगों को टीकाकरण के लिए प्रेरित करते हुए कहा कि कोरोना से सुरक्षित रहने और खुद को, और अपने परिवार को भविष्य की मुश्किलों से बचाने के लिए वैक्सीनेशन या टीकाकरण एकमात्र सहारा है। हम सबको इसे लगवाना है। हमारे शहरों और गांवों के लोग बड़े उत्साह के साथ टीका लगवा रहे हैं। जितनी जल्दी हम टीका लगवायेंगे उतनी जल्दी हम अपना भविष्य सुरक्षित करते जायेंगे। कुछ गांवो में टीके को लेकर लोगो के मन में डर या आशंका है। उन्होंने कहा कि मैं आपका मुख्यमंत्री आपको भरोसा दिलाता हूं कि टीका लगवाने से कोई खतरा नहीं है बल्कि यह आपको भविष्य में होने वाले खतरे से बचायेगा। इस समय कोरोना से बचाव के लिए हमारे पास टीका ही एकमात्र हथियार है। मैंने खुद जाकर टीका लगवाया है और अब मैं अपने आपको ज्यादा सुरक्षित महसूस कर रहा हूं। आप शीघ्र ही अपने निकट के टीकाकरण केन्द्र जायें और टीका लगवायें। मुख्यमंत्री ने लोगों को भरोसा दिलाया कि सभी लोगों के सहयोग से हम यह लड़ाई अवश्य जीतेंगे।

Post a Comment